Ads (728x90)



 Badhai Geet - Chhina Chhina Badhaya Chhina

बधाई गीत - छीना-छीना बधाया - Badhai Geet - Chhina Chhina Badhaya Chhina 


छीना-छीना बधाया मेरा छीना। 
जीना चढ़ने में आवे पसीना, बधाया छीना | 

मुझे ऐसी सास नहीं भावे ----2, 
जो हरदम बलम सिखावे, बधाया छीना 
पलका से हुकुम चलावै बधाया छीना 
छीना-छीना बधाया………. 

मुझे ऐसी जिठानी नहीं भावे...2, 
जो नित उठ लड़का जावे बधाया छीना 
लड्डू खाकर के सौंठ बतावे बधाया छीना 
छीना-छीना बधाया…… 

मुझे ऐसी देवरानी नहीं भावे....2, 
जो हरदम नखरा झाड़े बधाया छीना, 
चौके से रार मचावै बधाया छीना 
छीना-छीना बधाया ------- 

मुझे ऐसी ननद नहीं भावे....2, 
जो नित उठ पीहर आवै बधाया छीना, 
जो दो की चार लगावै बधाया छीना 
बिजली सी चमकत जावै बधाया छीना 
छीना-छीना बधाया ----- 

मुझे ऐसी पड़ोसन नहीं भावे, 
कूओं पे रार मचावै बधाया छीना 
खिड़की से ताक लगावै बधाया छीना 
छीना-छीना बधाया ------- 


Tag - बधाई गीत - छीना-छीना बधाया - Badhai Geet - Chhina Chhina Badhaya Chhina,badhai geet lyrics,badhai geet in hindi lyrics, badhai songs for marriage




Post a Comment