भात के गीत -चंदा की शोभा - Bhat ke Geet - Chanda Ki Shobha

  Bhat ke Geet - Chanda Ki Shobha

 भात के गीत -चंदा की शोभा  - Bhat ke Geet - Chanda Ki Shobha  

चंदा की शोभा चांदनी, सूरज की शोभा छैंया
भात की शोभा चुनरी , पाटे की शोभा भईया 

थाली पर बीरा बरसै  ऊपर सै इन्द्र बरसै
मत बरसो इन्दर राजा जी, मेरी माँ का जाया भीजै 
मेरी माँ का जाया भीजै, गैल भावजिया भीजे 

टीके पर मेघा बरसै, झुमका  पर मेघा बरसै
मत बरसो इन्दर राजा जी, मेरी माँ का जाया भीजै 

हरबा  पर मेघा बरसै, चूड़ियों  पर मेघा बरसै
मत बरसो इन्दर राजा जी, मेरी माँ का जाया भीजै 

कंगन  पर मेघा बरसै, गुच्छा  पर मेघा बरसै
मत बरसो इन्दर राजा जी, मेरी माँ का जाया भीजै 

पायल  पर मेघा बरसै, बिछुआ  पर मेघा बरसै
मत बरसो इन्दर राजा जी, मेरी माँ का जाया भीजै 

चुनर  पर मेघा बरसै, लंहगा   पर मेघा बरसै
मत बरसो इन्दर राजा जी, मेरी माँ का जाया भीजै

Tag- भात के गीत -चंदा की शोभा  - Bhat ke Geet - Chanda Ki Shobha 

Comments