Ads (728x90)



फाल्गुन मास (Falgun Maas) के शुक्ल पक्ष (Shukla Paksha) की एकादशी (Ekadashi) को आमलकी एकादशी (Amalaki Ekadashi) कहते हैं, आमलकी एकादशी (Amalaki Ekadashi) को आंवला एकादशी (Amla Ekadashi ) और आमलका एकादशी (Amalaka Ekadashi) के नाम से जाना जाता है, आईये जानते हैं - आमलकी एकादशी का महत्‍व - Amalaki Ekadashi Ka Mahatva

आमलकी एकादशी का महत्‍व - Amalaki Ekadashi Ka Mahatva


आमलकी का अर्थ होता है आंवला (gooseberry) भारत में पीपल और आंवले के वृक्ष को देवता माना जाता है और उनकी पूजा की जाती है, ऐसी मान्‍यता है कि जब विष्णु जी ने जब सृष्टि की रचना के लिए ब्रह्मा को जन्म दिया उसी समय विष्णु जी ने आंवले के वृक्ष को जन्म दिया, इसी कारण आंवले के वृक्ष की पूजा की जाती है, ऐसी मान्‍यता है कि आंवले के वृक्ष के हर अंग में ईश्वर का निवास है, आमलकी एकादशी (Amalaki Ekadashi) या आंवला एकादशी (Amla Ekadashi) इसी उपलक्ष में मनाई जाती है
हिन्‍दु धर्म में Ekadashi Vrat का बहुुत Mahatva होता है, साल भर में कुल 24 Ekadashi पडती है आमलकी एकादशी (Amalaki Ekadashi) महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) और होली (Holi) के मध्‍य पडती है, इस दिन भगवान विष्‍णु की पूजा के साथ आंवले के वृक्ष की पूजा की जाती है
Tag - Amlaki Ekadashi in Hindi, Amla Ekadashi, Amalaka Ekadashi, Phalgun Shukla, amalaki ekadasi significance



Post a Comment